करण जौहर हुए फिर से नेपोटिज़्म के लिए ट्रोल, सिद्धार्थ शुक्ला के फैंस ने किया ट्रोल, जानिए वज़ह।

बात दरअसल यह है कि करण जौहर ने वरुण-आलिया को टैग कर’ हम्प्टी शर्मा की दुल्हनिया ‘के 6 साल पूरे होने के जश्न मनाया, इसी बात पर सिद्धार्थ शुक्ला के फैन विफर गए। और कारण जोहर को ट्रोल कर दिया। फिर से उन्हें बॉलीवुड में भाई- भतीजावाद को प्रोमोट करने के लिए खूब खरी खोटी सुनाई।

सिद्धार्थ शुक्ला के प्रशंसक फिल्म निर्माता से इसलिए परेशान हैं, क्योंकि अभिनेता फिल्म में दूसरी मुख्य भूमिका निभाई थी, और फिर भी, उस पोस्ट में उनका कोई उल्लेख नहीं था।

करण जौहर ने यह ट्वीट किया कि,”6 साल पूरे और वे अभी भी मजबूत हो रहे हैं। नए जमाने की फिल्मी प्रेम कहानी का जश्न मनाया जा रहा है जो कालातीत बनी हुई है! # 6YearsOfHSKD #HumptySharmaKiDulhania @karanjohar @ apoorvameh1818 @Varun_dvn @ aliaa08 #ShashankKhaitan #HSKD।”

इस ट्वीट पर कमेंट सेक्शन को बंद किया हुआ था, इसलिए प्रशंसकों ने ट्वीट को रीट्वीट किया और फिल्म निर्माता को भाई-भतीजावादी कहा और बहुत कुछ कह दिया।

सिर्फ सिद्धार्थ शुक्ला ही नहीं, कुछ प्रशंसकों ने करण जौहर को यह भी याद दिलाया कि वह दिग्गज अभिनेता आशुतोष राणा का जिक्र करना भूल गए, जो फिल्म में एक महत्वपूर्ण भूमिका में थे। जहां सिद्धार्थ ने फिल्म में ‘अंगद बेदी’ का किरदार निभाया था, वहीं आशुतोष राणा उनके पिता थे।

वहीं लोगों ने करण को ये भी याद दिलाया कि ट्वीट में साहिल वैद और गौरव पांडे का कोई ज़िक्र नहीं था, जब की जब दोनों अभिनेताओं ने ‘हम्प्टी शर्मा की दुल्हनिया’ और ‘बद्रीनाथ की दुल्हनिया’ में सहायक भूमिकाएँ निभाईं है। दोनों ने इस फ्रैंचाइज़ी में वरुण के दोस्तों की भूमिकाएँ निभाई हैं। जानकारी के लिए बता दें कि साहिल वैद सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी आगामी फिल्म ‘दिल बेचारा’ का भी अहम हिस्सा हैं।

वविदित हो कि 14 जून, 2020 को सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद करण जौहर के ऊपर भाई-भतीजावाद को बढ़ावा देने वाली बहस एक बार फिर से शुरू हो गई है। कंगना रनौत के साथ अभिनेता के प्रशंसकों ने फिल्म निर्माता पर एक गिरोह बनाने और बाहरी लोगों को धमकाने का आरोप लगाया है। कंगना ने करण के शो ‘कॉफी विद करण’ पर करण को भाई-भतीजावाद का फ्लैग बेयरर भी कहा था।

गुलशन।

Share via

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *