जगन्नाथ रथ यात्रा को सुप्रीम कोर्ट की हरी झंडी

कोरोना महामारी के बीच पूरी की प्रसिद्ध जगन्नाथ रथ यात्रा पर कुछ सर्तो के साथ सुप्रीम कोर्ट ने इजाज़त दे दी है।कोर्ट ने कहा कि प्लेग महामारी के दौरान भी रथ यात्रा सीमित नियमों और श्रद्धालुओं के बीच हुई थी।

मालूम हो कि जब से कोरोना महामारी फैली है तब से ही सरकार ने किसी भी तरह के ऐसे आयोजन पर रोक लगा रखी है जिसमें ज़्यादा भीड़ इकट्ठी हो। ऐसे में सबके श्रद्धालुओं के लिए एक चुनौती थी कि रथ यात्रा की इजाज़त मिलेगी या नहीं।

इसी मद्देनजर सुप्रीम कोर्ट में कई याचिकाएं डाली गई थी।इस मामले में चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया (सीजेआई) एसए बोवडे ने तीन जजों की बेंच गठित की। इस बेंच में सीजेआई एसए बोवडे, जस्टिस एएस बोपन्ना और जस्टिस दिनेश माहेश्वरी शामिल रहे।

सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कोर्ट से कहा कि शंकराचार्य, पुरी के गजपति और जगन्नाथ मंदिर समिति से सलाह कर यात्रा की इजाजत दी जा सकती है। केंद्र सरकार भी यही चाहती है कि कम से कम आवश्यक लोगों के जरिए यात्रा की रस्म निभाई जा सकती है।

रितेश।

Share via

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *