बिहार बाढ़: सुगौली-नरकटियागंज के बीच ट्रेन सेवाएं स्थगित; छह ट्रेनें डायवर्ट की गईं

बिहार में लगातार बाढ़ के पानी का स्तर बढ़ रहा है, बिहार रेलवे पुल संख्या 248 पर पानी के अधिक बहाव के कारण सुगौली-मझौलिया (SGL-MJL) खंड के बीच ट्रेन सेवाओं को निलंबित कर दिया गया है।

रेलवे ने बयान जारी कर कहा, ‘ रात 1 बजे बाढ़ का पानी पुल नंबर 248 के गर्डर को छू गया था इसलिए सुगौली-मझौलिया (SGL-MJL) खंड के बीच ट्रेन सेवाओं को निलंबित कर दी गई हैं।’

ट्रेनों की सूची जिनको डाइवर्ट किया है:

1) 02558 दिल्ली-मुजफ्फरपुर सप्त क्रांति एक्सप्रेस दिल्ली से 24/07/2020 को शुरू होने वाली विशेष यात्रा वाली ट्रेन को गोरखपुर-नरकटियागंज-सुगौली-मुजफ्फरपुर के बजाए गोरखपुर-सिवान-छपरा-हाजीपुर-मुजफ्फरपुर के रास्ते पर डाइवर्ट किया गया है।

2) 02557 मुजफ्फरपुर-दिल्ली-सप्त क्रांति एक्सप्रेस जिसकी यात्रा 25/07/2020 को शुरू होने वाली है, उसे मुजफ्फरपुर-सुगौली-नरकटियागंज-गोरखपुर रास्ते को मुजफ्फरपुर-हाजीपुर-छपरा-सीवान-गोरखपुर के रास्ते में परिवर्तित किया गया है।

3) 05273 रक्सौल-दिल्ली सत्याग्रह एक्सप्रेस रक्सौल जिसकी यात्रा 25/07/2020 को शुरू होने वाली है। रक्सौल-सुगौली-नरकटियागंज के बजाए रक्सौल-सिकटा-नरकटियागंज के रास्ते चलाई जाएगी।

4) 05274 दिल्ली-रक्सौल सत्याग्रह एक्सप्रेस दिल्ली से 24/07/2020 को शुरू होने वाली विशेष यात्रा को के बजाय नरकटियागंज-सुगौली-रक्सौल के बजाए नरकटियागंज-सिकटा-रक्सौल वाले रास्ते पर डाइवर्ट किया गया है।

5) 09039 बांद्रा टर्मिनस-मुजफ्फरपुर एक्सप्रेस बांद्रा टर्मिनस से 23/07/2020 को शुरू होने वाली विशेष यात्रा गोरखपुर-नरकटियागंज-सुगौली-मुजफ्फरपुर के बजाय * गोरखपुर-छपरा-हाजीपुर-मुजफ्फरपुर के रास्ते पर डाइवर्ट की गई है।

6) 09040 मुजफ्फरपुर-बांद्रा टर्मिनस एक्सप्रेस मुजफ्फरपुर से 26/07/2020 को शुरू होने वाली विशेष यात्रा मुजफ्फरपुर-सुगौली-नरकटियागंज-गोरखपुर के बजाए मुजफ्फरपुर-हाजीपुर-छपरा-गोरखपुर के रास्ते से चलाई जाएगी।

बता दें कि इससे पहले, रेलवे ने लगातार बारिश और बाढ़ जैसी स्थिति के कारण बिहार के दरभंगा और समस्तीपुर के बीच ट्रेन सेवाओं को निलंबित कर दिया था।

बिहार में बाढ़ ने 10 जिलों में लगभग 10 लाख लोगों को प्रभावित किया है और राज्य के आपदा प्रबंधन विभाग के अनुसार शुक्रवार (24 जुलाई, 2020) तक कम से कम 10 लोगों के जीवन की बाढ़ से जान भी चली गयी है।

आपको बता दें कि लगभग 93.89 लाख लोगों को अब तक सुरक्षित स्थानों पर पहुचाया जा चुका है, जिनमें से 12,000 से अधिक लोगों ने बाढ़ पीड़ितों के लिए बनें 22 राहत शिविरों में शरण ली है।

गुलशन।

Share via

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *